वेड़ा शगना दा Veda sagna da – पंजाबी सेहरा लोकगीत Lok Geet

 वेड़ा नी वेड़ा भरया शगनां दा।

वेड़ा नी वेड़ा भरया शगनां दा।

आइयां तेरियां ताइयां नी अज घर बाबल दे।

आइयां देन वधाइयां नी अज घर बाबल दे।

सारीयां देन वधाइयां नी अज घर बाबल दे।

सोले-सोले सोले-अज मेरे वीरे दे,

काम बराबर कोले नी अज मेरे मेरे वीरे दे।

नच ले गिद्दे विच तन दी अज दिन शगना दे।

हरया-हरया-हरया मुंडे दी बेबे नूं ।

गोडे गोडे चाव मुंडे दी बेबे नूं ।

रोज रोज नी आने नी ए दिन खुशियां दे।

खेडा नी बेडा भरया शगनां दा।

खेड़ा नीबेड़ा भरया शगनां दा।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *