मधाणियां 2 Madhaniya 2 punjabi Lok Geet

मेरी रांगली मधाणी बावां गोरियां तेरे आवण दी उम्मीद विच मैं हौले-हौले, दुध रिड़का। मेरी रांगली मधाणी……. किसे दी नजर लगी, टुट गया साथ वे…

मधाणियां Madhaniya punjabi lok geet

मधाणियां…… हाय ओ मेरे डाडेया रब्बा किन्ना जम्मियां किन्हा ने लै जाणियां । हाय ओ मेरे…… मेहंदी……. लगदी सुहागणां नूं नईं मरदे दमा तक लेन्दी…